चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां

चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां
मेरे सतगुरु दीन दयाला

कुर्बान जाऊं उस वेला सुहावा
जित तुम्हरे द्वारे आया
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां
मेरे सतगुरु दीन दयाला

पार ब्रह्मा परमेश्वर सतगुरु
आपे कर नेहारा
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां
मेरे सतगुरु दीन दयाला

चरण धूल तेरे सेवक मांगे
तेरे दर्शन को बलेहारा
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां  
मेरे सतगुरु दीन दयाला

मेरे राम राये
ज्यों राखे,त्यों रहिये
तुद पावे ता नाम जपांवे
सुख तेरा देता लहिए
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां  
मेरे सतगुरु दीन दयाला

तहाँ बैकुंठ जहाँ कीर्तन तेरा
तू आपे सारधा लावे
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां  
मेरे सतगुरु दीन दयाला

मुकत भुगत जुगत तेरी सेवा
जिसे तू आप करावे
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां  
मेरे सतगुरु दीन दयाला

सिमर सिमर सिमर नाम
जिव्हा मेरो तनमन होए निहाला
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां  
मेरे सतगुरु दीन दयाला

नानक कहे प्रभ भज किरपाल
सतगुरु पूरा पाया
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां  
मेरे सतगुरु दीन दयाला

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.